bullet शासकीय विभाग

 

विमानन विभाग

अधिकारिक वेबसाइट

रूपरेखा

राज्य शासन के विमानन विभाग एवं विमानन संचालनालय का गठन दिनांक ०१.०६.१९८२ से किया गया है. विमानन संबंधी विषय क्रन्द्रीय अनुसूची का है परन्तु राज्य शासन के पास अपने स्वयं के विमान/हेलीकॉप्टर होने तथा प्रदेश में हवाई यातायात के विकास के कारण इस विभाग का निर्माण हुआ है. विभाग मु,यतः तीन प्रकार के कार्य करता हैः-

  • 1. अतिविशिष्ट व्यक्तियों के लिये शासकीय विमान/हेलीकॉप्टर उपलब्ध कराना, शासन के विमान/हेलीकॉप्टर का अनुरक्षण तथा परिचालन ।
  • 2. प्रदेद्गा में वायु यातायात सेवाओं के विस्तार के लिये स्वयं के संसाधनों से हवाई पटि्‌टयों का विकास कार्य ।
  • 3. उड्‌डयान प्रशिक्षण के क्षेत्र में अरक्षित वर्ग के उम्मीदवारों को छात्रवृत्तियॉं प्रदाय करना ।

सेवाएं

विमानन विभाग का कार्य अतिविशिष्ट व्यक्तियों की उड़ान व्यवस्था पर केंद्रित है। विभाग का आम जनता से कोई सीधा संबंध नहीं है । राज्य स्तरीय कार्यालय होने से स्थानांतरण नहीं होते हैं । स्टाफ सीमित होने से स्थापना संबंधी कोई उल्लेखनीय गतिविधि नहीं है । बजट का यथासंभव प्रयोग वित्तीय वर्ष में किया जाता है ।

राज्य शासन के विमानन विभाग एवं विमानन संचालनालय का गठन दिनांक ०१.०६.१९८२ से किया गया है । विमानन संबंधी विषय क्रन्द्रीय अनुसूची का है परन्तु राज्य शासन के पास अपने स्वयं के विमान/हेलीकॉप्टर होने तथा प्रदेश में हवाई यातायात के विकास के कारण इस विभाग का निर्माण हुआ है । विभाग मु,यतः तीन प्रकार के कार्य करता हैः-

  • 1. अतिविशिष्ट व्यक्तियों के लिये शासकीय विमान/हेलीकॉप्टर उपलब्ध कराना, शासन के विमान/हेलीकॉप्टर का अनुरक्षण तथा परिचालन ।
  • 2. प्रदेद्गा में वायु यातायात सेवाओं के विस्तार के लिये स्वयं के संसाधनों से हवाई पटि्‌टयों का विकास कार्य ।
  • 3. उड्‌डयान प्रशिक्षण के क्षेत्र में अरक्षित वर्ग के उम्मीदवारों को छात्रवृत्तियॉं प्रदाय करना

इस विभाग के अंतर्गत संस्थान और संगठन