अन्य लिंक

 

विभागीय संरचना

संस्था के कार्य के सुचारू रूप से संचालन हेतु ''मेमोरेंडम ऑफ एसोसियेशन'' निर्धारित है, जिसके अंतर्गत संस्था का संचालक मण्डल गठित है। संचालक मण्डल मे अध्यक्ष प्रदेश के कृषि उत्पादन आयुक्त हैं। संस्था का प्रधान कार्यालय भोपाल में स्थित है। संस्था के प्रबंध संचालक मुख्य कार्यपालन अधिकारी होते हैं। प्रधान कार्यालय से ही संस्था का पूरे प्रदेश का प्रशासनिक तकनीकी एवं वित्तीय नियंत्रण होता है, तथा कार्य की सुविधा की दृष्टि से संस्था के 10 संभागीय कार्यालय क्रमश: इन्दौर, सागर, ग्वालियर, भोपाल, खण्डवा, जबलपुर, रीवा, उज्जैन, मंदसौर एवं होशंगाबाद मे स्थित है।

इसके अतिरिक्त संस्था की दो बीज परीक्षण प्रयोगशालायें इन्दौर, जबलपुर मे कार्यरत हैं। इन प्रयोगशालाओं की वार्षिक क्षमता 20,000 नमूने परीक्षण करने की है। अनुवांशिक शुद्वता परीक्षण के लिये संस्था का एक प्रक्षेत्र देलमी जिला धार मे स्थित है। उज्जैन एवं भोपाल में स्वीकृत नवीन बीज परीक्षण प्रयोगशालायें स्थापित की जाकर इन्हें क्रियाशील करने की कार्यवाही प्रक्रियाधीन है।

 

उद्देश्य
संस्था का उद्देश्य उन्नत फसलों की ऐसी किस्मों के बीज का प्रमाणीकरण करना है जो भारत सरकार द्वारा अधिसूचित की गई हैं। इन किस्मों का प्रमाणीकरण केन्द्रीय बीज प्रमाणीकरण मण्डल द्वारा निर्धारित बीज प्रमाणीकरण के सामान्य नियमों तथा विभिन्न फसलों के विशिष्ट मानकों के अंतर्गत किया जाता है ताकि कृषकों को उच्च कोटि का निर्धारित मानक के अनुरूप बीज उपलब्ध हो।

 


विभाग से संबंधित सामान्य जानकारी

भारत सरकार द्वारा अधिसूचित बीज अधिनियम 1966 की धारा-8 के अन्तर्गत मध्यप्रदेश में बीज प्रमाणीकरण संस्था की स्थापना 1 फरवरी-1980 को हुई। संस्था का, मध्यप्रदेश सोसायटीज रजिस्ट्रेशन अधिनियम 1973 के अन्तर्गत पंजीयन कराया गया (पंजीयन क्रमॉक 8701 दिनॉक 21.1.80)। प्रदेश का कोई भी किसान जो उन्नत बीज उत्पादन में रूचि रखता हो मध्यप्रदेश की किसी भी बीज उत्पादक संस्था के माध्यम से अथवा सीधे अपना बीज उत्पादन कार्यक्रम पंजीकृत करा सकता है।

प्रदेश में निम्न संस्थाएं एवं अन्य बीजोत्पादक, बीज प्रमाणीकरण संस्था से अपना बीज प्रमाणित कराते हैं-

  • राष्ट्रीय बीज निगम।

  • मध्यप्रदेश राज्य बीज एवं फार्म विकास निगम।

  • मध्यप्रदेश तिलहन उत्पादक सह.संध मर्यादित।

  • मध्यप्रदेश राज्य कृषि उद्योग विकास निगम।

  • किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग, मध्यप्रदेश।

  • मध्यप्रदेश उधानिकी एवं प्रक्षेत्र वानिकी विभाग।

  • कृषि विश्वविद्यालय।

  • बीज उत्पादक सहकारी समितियाँ।

  • भारतीय राज्य फार्म निगम लिमिटेड।

  •  निजी संस्थाएं।

महत्वपूर्ण सांख्यिकी :-
           2.1- 3 वर्षो में पंजीकृत क्षेत्रफल एवं प्रमाणित बीज की मात्रा निम्नानुसार है:-
 
क्र. वर्ष

पंजीकृत क्षेत्र
लाख (हैक्ट. में)

प्रमाणित बीज की मात्रा
(लाख क्ंवि. मे)

खरीफ रबी योग खरीफ रबी योग
1. 2007-08 1.54 0.68 2.22 16.30 11.14 27.44
2 2008-09 2.34 0.73 3.07 24.17 11.41 35.58
3. 2009-10 2.63 0.91 3.55 26.83 14.88 41.72
4 2010-11 2..47 1.04 3.51 20.32 16.20 36.52

खरीफ 11 में 2.19 लाख हेक्टे. क्षेत्र का पंजीयन हुआ है, जिससे खरीफ 12 हेतु लगभग 22.00 लाख क्विंटल प्रमाणित बीज प्राप्त होना अनुमानित है।
रबी 11-12 में 1.09 लाख हेक्टेयर का पंजीयन किया गया है। फसल निरीक्षण कार्य प्रगति पर है।

2.2- बीज परीक्षण प्रगति :-

तीन वर्षो में परीक्षण किये गये नमूने :- इकाई:- संख्या में

क्र. प्रयोगशाला 2009-10 2010-11 2011-12
(31 दिसम्बर तक)
1 जबलपुर 31597 30445 19020
2 इन्दौर 24551 35203 16200
  योग 56148 65648 35220

भाग -दो
बजट प्रावधान

संस्था को वित्तीय वर्ष 2011-12 के बजट प्रावधान अनुसार राशि रूपये 1912.60 लाख की प्राप्ति तथा राशि रूपये 1467.48 लाख रूपये के संभावित व्यय का बजट संस्था के संचालक मण्डल द्वारा अनुमोदित किया गया है।
संस्था द्वारा वर्ष 1980-81 में बीज उत्पादन कार्यक्रम के अंन्तर्गत कुल 3000 हैक्टेयर रकबे से बीज प्रमाणीकरण का कार्य शुरू किया गया था, जो वर्ष 2010-11 में बढ़कर 3.51 लाख हेक्टेयर हो गया है। इस रकबे से कुल 36.52 लाख क्ंविटल प्रमाणित बीज उत्पादित हुआ।

भाग-तीन
राज्य योजना

-निरंक-

भाग-4
सामान्य प्रशासनिक विषय


विभागीय पदोन्नतियॉ, जाँच, नियुक्तियॉ तथा स्थानान्तरण की जानकारी

  अ- पदोन्नतियॉ :-
          वर्ष 2011-12 में निरंक।

ब- विभागीय जॉच :-
 

स.क्र. वर्ष प्रारंभ में लंबित विभागीय जॉच नये वर्ष में
शामिल प्रकरण
कुल प्रकरण जॉच कर निर्णय किया गया निर्णय हेतु
शेष प्रकरण
1 2011-12 08 07 15 निरंक 15

स- न्यायालयीन प्रकरण :-
 

स.क्र. वर्ष प्रारंभ में लंबित न्यायालयीन प्रकरण नये वर्ष में शामिल  न्यायालयीन प्रकरण  कुल न्यायालयीन प्रकरण निर्णयीत न्यायालयीन प्रकरण निर्णय हेतु शेष न्यायालयीन प्रकरण
1 2011-12 25 12 37 04 33

द- नियुक्तियॉ :-

       वर्ष 2011-12 में 11 अलिपिक वर्गीय नियुक्तियां की गई है।

घ- वर्ष 2011-12 में स्थानान्तरण की जानकारी :-
 

पद श्रेणी भरे पद स्थानान्तरण स्थानान्तरण निरस्त
स्वयं के व्यय प्रशासकीय प्रशासकीय स्वयं के व्यय
सहा. बीज प्रमा. अधिकारी तृतीय 184 05 06 - 01
बीज विश्लेषक तृतीय 16 01 - - -

प्रयोगशाला सहायक

तृतीय 17 02 - - -

 

भाग-5
( विभाग द्वारा निकाले जा रहे प्रकाशन, यदि कोई हो, का उल्लेख किया जावे )
...........निरंक..........

भाग-6
सारांश


संस्था का गठन भारत शासन द्वारा अधिसूचित बीज नियम 1966 की धारा 8 के अन्तर्गत किया गया है एवं संस्था का मुख्य कार्य निर्धारित गुणवत्ता के बीज का प्रमाणीकरण करना है।