खसरा एवं बी-1 का निःशुल्क नकल विवतरण विवरण


राज्य शासन द्वारा प्रदेश के समस्त खातेदारों को वर्ष में एक बार खसरा एवं बी-1 का निःशुल्क नकल उपलब्ध कराने का निर्णय लिया गया है इसी क्रम में वर्ष 08 में यह कार्य 1 जनवरी से प्रारंभ किया गया है जिलों से प्राप्त जानकारी के आधार पर प्रदेश के 1,27,38,921 खातेदारों में से 1,10,16,608 खातेदारों को उनके खाते की भूमि का खसरा एवं बी-1 की नकल निःशुल्क उपलब्ध करा दी गई है इस प्रकार लगभग 4प्रतिशत खातेदार जो गाँव को छोड़कर जीविकोपार्जन के लिए बाहर चले गए हैं का नकल वितरण नहीं किया जा सका है।